आरोपी के पिता बोले- पता होता धूलचंद को उसी टे्रक पर बांध देता, पैरवी करने नहीं जाऊंगा

0

उदयपुर। उदयपुर-अहमदाबाद ट्रे पर ब्लास्ट करने के मामले में मुख्य आरोपी धूलचंद मीणा के पिता सवजी मीणा अपने बेटे की करतूत से आहत है। उनका कहना है कि धूलचंद ऐसी हरकत करेगा हमने कभी सोचा नहीं था। ये बात अगर मुझे पता होती तो उसी ट्रेक पर ले जाकर उसका बांध देता। सवजी मीणा ने पिता की करतूत को शर्मनाक बताते हुए सख्त सजा देने की बात कही। उन्होंने ये भी कहा कि सालों पहले धूलचंद का दिमागी संतुलन बिगड़ गया था। इस दौरान वे आने-जाने वालों पर पत्थर मारता और उनको परेशान करता था। बाद में ठीक हुआ तो उनका जिद्दी स्वभाव जारी रहा। सवजी ने बताया कि एक साल से उनकी आदतों के कारण बोल-चाल बंद है। उन्होंने कहा कि बेटे की रिहाई के लिए वो किसी भी तरह की पैरवी नहीं करेंगे और न कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाए। सवजी ने खुलकर अपनी भड़ास निकालते हुए बेटे कृत्य पर अफसोस जताया। हालांकि धूलचंद के तीन बच्चों के भविष्य को लेकर वो फफक पड़े।


आधा मुआवजा जिंक से मिला, आधा रेलवे से नहीं मिला


सवजी मीणा ने बताया कि उनकी जमीन का आधा हिस्सा जिंक में चला गया जबकि आधा हिस्सा रेलवे में चला गया। जिंक के अधिकारियों से मिलने पर उन्होंने जमीन को अधिग्रहण करने की बात कही। हालांकि जिंक ने तो आधे हिस्से का मुआवजा दे दिया लेकिन रेलवे ने आधे हिस्से का मुआवजा नहीं दिया। सवजी का कहना है कि इस बात पर पता नहीं कब धूलचंद ने खुन्नस पाल ली और उसने विस्फोट कर दिया।

Udaipur में Railway : आरोपियों से ATS ने जाना कैसे रची प्लानिंग | आरोपी के पिता ने क्या कहा Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here