शिव मंदिर में तोडफ़ोड़ कर चुराई मूर्तिया, कार्यवाही की मांग को लेकर दी रिपोर्ट

0
खमनोर। हल्दीघाटी नर्सरी में बने शिव मंदिर में की गई तोड़-फोड़ के बाद घटना स्थल पर पहुंचे विभिन्न हिन्दू सगठनों के कार्यकर्ता।

खमनोर। हल्दीघाटी नर्सरी में बने शिव मंदिर में मंगलवार देर रात अज्ञात बदमाशों ने मंदिर में स्थापित की गई 25 वर्षो पुरानी शिव प्रतिमा के साथ तोडफ़ोड़ कर मूर्ति लेकर चले गए। घटना की सूचना पर विभिन्न हिन्दू सगठनों ने घटना को लेकर आक्रोश व्यक्त किया। जानकारी के अनुसार हल्दीघाटी नर्सरी में बने शिव मंदिर में अज्ञात बदमाशों द्वारा मंदिर में प्रवेश कर मंदिर में लगी 25 वर्षो पुरानी शिव प्रतिमा को तोड़ा व मंदिर परिसर में लगी गणेश भगवान की प्रतिमा व चोक में लगे नांदिये को तोड़ दिया गया व मंदिर में लगी शिव प्रतिमा उखाड़ कर ले गए। घटना की सूचना मिलते ही हिन्दू संघठनो ने मोके पर पहुँचकर घटना कर विरोध किया एव सूचना पर थानाधिकारी नवल किशोर ने मौके पहुँचे। घटना को लेकर एएसपी राजेश गुप्ता थाने पर पहुंच कर संघठन के लोगो से वार्ता कर रिपोर्ट पर तुरतं अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। हिन्दू संघठन के कार्यकर्ताओ ने एएसपी से वापस मूर्ति लगवाने की माग की गई। जिस पर एएसपी ने गुरूवार से ही वापस मंदिर में मूर्ति लगवाने की बात की। एएसपी की समझाइश पर मामला शान्त हुआ। इस दौरान हरीश श्रीमाली, हेमन्त सिंह मोजावत, देवीलाल सोनी, व्यापार मंडल अध्यक्ष राम चंद्र पालीवाल, गोपाल गिरी गोस्वामी, राजेन्द्र माली, ओम प्रकाश खटीक, योगेश पराशर, सूरज पंवार, तिलकेश पालीवाल सहित ग्रामीण मौजूद थे। इधर, वन विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी मोहम्मद इस्माइल बोले कि यहां जून में हुई थी चोरी। हालांकि चोरी को लेकर वन विभाग ने एफआईआर दर्ज नहीं कराई। एक दिन पहले हल्दीघाटी में ही मजार तोडऩे पर विवाद हुआ था। उसके बाद मंगलवार देर रात अज्ञात लोगों ने अब शिवलिंग व शिव परिवार की मूर्तियां उखाडऩे की बात को लेकर लोगों में आक्रोश छा गया है। कस्बे में लगातार हो रहे सांप्रदायिक तनाव को लेकर प्रशासन के साथ-साथ दोनों ही समुदाय के लोग शांति रखने की अपील कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here