प्रमुख शासन सचिव आनंद कुमार ने किया कुंवारिया तहसील का निरीक्षण

0

राजसमंद, चेतना भाट। प्रमुख शासन सचिव राजस्व आनन्द कुमार व जिला कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल ने शुक्रवार को जिले के कुंवारिया तहसील का निरीक्षण किया। इस मौके पर प्रमुख शासन सचिव ने तहसील का निरीक्षण कर सम्बन्धित अधिकारियों से बिल्डिंग स्टॉफ व आने वाले समय में प्रशासन गांवों के संग अभियान की तैयारी को लेकर व तहसील के राजस्व सम्बन्धी आनलाईन कार्य व इसके साथ ही भौतिक समस्याओं की जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने राजस्व सेवाओं के माध्यम से आमजन को लाभांवित कराने वाले कार्यों, योजनाओं व प्रगति को जाना। वहीं ई-मित्र केन्द्र से जमाबन्दी आनलाईन जारी करने के सम्बन्ध में जानकारी ली और भविष्य में जमाबन्दी ई-साईन से जारी करने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल ने उन्हें आवश्यक जानकारी दी। इस अवसर पर एसडीएम डॉ. दिनेश राय सापेला, तहसीलदार राजेन्द्र भारद्वाज व तहसील के कार्मिक मौजूद थे।


जिला कलक्टर कार्यालय में ली बैठक


निरीक्षण के प्रमुख शासन सचिव ने जिला कलक्टर कार्यालय में राजस्व व सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक ली। बैठक में उन्होंने आगामी समय में आयोजित होने वाले प्रशासन गांवों के संग अभियान को लेकर तैयारियों के लिये जानकारी ली। बैठक में उन्होंने 2 अक्टूबर से प्रस्तावित प्रशासन गांवों के संग अभियान के लिए समस्त प्री-तैयारी करने के लिए कहा। उन्होंने राजस्व प्रकरणों का निस्तारण करने डीआईएलआएमपी संबंधी कार्य, आईएलआर भवनों के लिए भूमि आंवटनए, गैर खातेदारी से खातेदारी प्रकरणों का नियमानुसार शीध्र निस्तारण साथ ही उन्होंने मानसून को देखते हुए आपदा प्रबन्धन की नागरिक सुरक्षा आवश्यकता वाले स्थान पर मुस्तैद करने के निर्देश दिए। प्रमुख शासन सचिव ने कुंभलगढ़ में बकाया ऑनलाईन कार्य को निर्धारित समय में पूरा करने व बिना भवन के पटवार सर्कल के लिए भूमि आवंटन आरक्षित करने के निर्देश दिए। इस मौके पर जिला कलक्टर पोसवाल ने जिले की स्थिति व अन्य जानकारी दी। इस अवसर पर बैठक में विभिन्न उपखंडों के एसडीएम राजसमंद डॉ. सापेला, आमेट निशा सहारण, कुंभलगढ़ परसाराम टांक, नाथद्वारा अभिषेक गोयल, रेलमगरा मनसुख डामोर व तहसीलदार सहित अन्य कार्मिक मौजूद थे।

राजसमंद। कुंवारिया तहसील कार्यालय का निरीक्षण करते एवं अधिकारियों के साथ बैठक लेते प्रमुख शासन सचिव राजस्व आनन्द कुमार। फोटो-प्रहलाद पालीवाल


डेयरी बूथ खोले जाने को लेकर बैठक आयोजित

राजसमंद। अतिरिक्त जिला कलक्टर कुशल कुमार कोठारी की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में राज्य सरकार की डेयरी बूथ खोले जाने की घोषणा को लेकर जिले के राजसमंद, नाथद्वारा, आमेट व देवगढ़ नगरीय क्षेत्रों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सरस दुग्ध विक्रय केन्द्र (बूथ) स्थापित किए जाने के सम्बन्ध में गठित समिति के सदस्यों एवं मनोनीत सदस्यों की बैठक आयोजित की गई। जिसमें एडीएम ने डेयरी संचालकों को शहरी क्षेत्रों एवं ग्रामीण क्षेत्रों के स्थानीय आवेदकों से आवेदन पत्र प्राप्त कर संबंधित आयुक्त, अधिशाषी अधिकारी, नगर परिषद, नगरपालिका को एवं ग्रामीण क्षेत्रों के आवेदन संबंधित सरपंच, ग्राम पंचायत, विकास अधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने उपस्थित समस्त सदस्यों को मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार की डेयरी बूथ खोले जाने की घोषणा की अधिक से अधिक जानकारी आमजन को दिये जाने के लिए शहरी क्षेत्रों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक प्रचार-प्रचार प्रसार कराने के निर्देश दिए। बैठक में बताया कि सरस दुग्ध विक्रय बुथ आवेदनकर्ता का स्थानीय वाडऱ् का नागरिक होना आवश्यक है। एक ही स्थान के लिए एक से अधिक आवेदन प्राप्त होने पर लॉटरी द्वारा आवंटन किया जाएगा। स्थानीय वार्ड का नागरिक ना होने पर अन्य वार्ड के नागरिक द्वारा किए गए आवेदन पर विचार कमेटी द्वारा किया जा सकेगा। नाथद्वारा शहर में सरस दुग्ध विक्रय बुथ स्थापित किए जाने के लिए बुधवार, गुरूवार, शुक्रवार तक प्राप्त आवेदनों की बाद जांच लॉटरी उपखण्ड अधिकारी नाथद्वारा के कार्यालय में निकाली जाएगी। जिसकी सूचना प्रथक से संबंधित को दी जाएगी। इस अवसर पर नाथद्वारा नगर पालिका आयुक्त, राजसमंद नगर परिषद आयुक्त, उप प्रबन्धक उदयपुर डेयरी सुरेन्द्र कुमार डांगी, ओएसडी राजसमन्द डेयरी डॉ पीके शर्मा, हरिसिंह देवगढ़,्र एसपी आफिस सीआईए बंशीलाल, हाउसिंह बोर्ड सुपरवाईजर कालूसिंह, रितेश आमेटा आदि उपस्थित थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here