नेशनल शारीरिक दिव्यांग टी – 20 क्रिकेट चैंपियनशिप – 2023

नारायण सेवा संस्थान, राजस्थान रॉयल्स एवं डीसीसीआई के साझे में

जम्मू ने दूसरी बार किया ख़िताब पर कब्ज़ा – विजेता को 5 लाख

उदयपुर, 8 अक्टूबर।फील्ड क्लब मैदान पर रविवार को तीसरी राष्ट्रीय दिव्यांग चैंपियनशिप का जम्मू-कश्मीर ने दूसरी बार खिताब अपने नाम करने के साथ समापन हो गया।पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि डीआईजी (सीआईडी) अजय सिंह राठौड़ ने विजेता टीम को ट्रॉफी व 5 लाख का चैक प्रदान किया। उपविजेता मुंबई टीम को 3 लाख का चैक प्रदान किया। उन्होंने कहा कि मैच में जो हौसला और जुनून खिलाड़ियों ने दिखाया, उससे इन खिलाड़ियों को उस मुकाम तक पहुंचने की हमारी उम्मीद जल्दी पूरी होगी, जहां दुनिया में हमारी इंडियन टीम परचम फहरा रही है। उन्होंने कहा कि आज समाज में भावनात्मक मूल्यों के तेजी से होते क्षरण को रोकने की जरूरत है, इस दिशा में नारायण सेवा संस्थान व डीसीसीआई सहित अन्य सामाजिक संस्थाओं को अपने प्रयास तेज करने होंगे। उन्होंने चैंपियनशिप के मैन ऑफ द मैच सीरीज जम्मू कश्मीर के वसीम इकबाल को स्कूटी प्रदान की। नारायण सेवा संस्थान के संस्थापक कैलाश ‘मानव’ ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए डिफरेंटली एबल्ड क्रिकेट कौंसिल ऑफ इंडिया के सहयोग से आयोजित इस ग्यारह दिवसीय क्रिकेट महाकुंभ में खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया । डीसीसीआई के सचिव रविकांत चौहान ने चैंपियनशिप का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि इसमें देश की 24 टीम ने 67 मैच खेले। इसमें डीसीसीआई और राजस्थान रॉयल्स का भी पूरा सहयोग मिला। हम चाहते हैं कि दिव्यांग भी खेलों में शीर्ष मुकाम तक पहुंचे और अपने परिवार को बेहतर ढंग से चला सके।

संस्थान की ओर से अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल, सहसंस्थापिका कमला देवी, निदेशक वंदना व पलक अग्रवाल ने अतिथियों का माल्यर्पण, पगड़ी, उपरना व प्रतीक चिन्ह से अभिनंदन किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में राजस्थान क्रियाविंग कमेटी ऐसोसिएशन के अध्यक्ष पीयूष कच्छावा, राजस्थान रॉयल्स के बिजनेस ऑफिसर आलोक चित्रे , ‘ स्वयं’ संस्थान दिल्ली के प्रोग्राम मैनेजर भूपेंद्र सिंह उपस्थित थे। डीसीसीआई के संयुक्त सचिव अभय प्रताप सिंह राठौड़ ने बताया कि मैन ऑफ द मैच पुरस्कार ‘ स्वयं’ संस्थान की ओर से दिए गए प्रत्येक खिलाड़ी को 11000 रुपए मिले । उन्होंने अपनी और से मैन ऑफ द सीरीज को स्कूटी प्रदान की।
चैंपियनशिप के फाइनल में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित ओवर में जम्मू में 162 रन बनाए। मुंबई टीम 20 ओवर में 132 बना ही सकी। जम्मू ने अनुशासनात्मक बॉलिंग,बैटिंग और फील्डिंग के चलते यह मुकाबला 35 रन से जीतकर दुसरी बार खिताब पर कब्जा किया। जम्मू के मैन ऑफ द मैच माजिद ने शानदार पारी खेलते हुए 21 बॉल में 37 रन बनाने और साथ ही 4 ओवर में 25 रन खर्चकर 2 विकेट टीम की झोली में डाले।
चैंपियनशिप के बेस्ट बॉलर मुंबई के रविंद्र संते, बेस्ट फील्डर मुंबई के आकाश पाटिल, बेस्ट बेस्टमैन मुंबई के रोहन, बेस्ट विकेट कीपर विदर्भ के लोकेश रहे। सेमीफाइनल क्वालीफाई करने वाले महाराष्ट्र और विदर्भ को भी 1- 1 लाख रुपए का पुरस्कार दिया गया।