उदयपुर। कलेक्ट्री पर ज्ञापन, प्रदर्शन और विरोध के कई मामले हर रोज आते है लेकिन सोमवार को सेमारी का एक परिवार इच्छा मृत्यु की मांग को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन देने पहुंचा। परिवार के 12 सदस्यों के साथ आए प्रार्थी ने सेमारी थाने के जांच अधिकारी की कार्यशैली पर प्रश्र चिह्न लगाते हुए निष्पक्ष कार्रवाई की मांग की। साथ ही मांग पूरी नहीं होने पर कलेक्ट्री पर आत्मदाह की चेतावनी दी। ज्ञापन लेकर पहुंचे परिवार के 50 वर्षीय मुखिया शंकर पुत्र धूलाजी मीणा सेमारी क्षेत्र के लालपुरिया बोरी का निवासी है। कलेक्टर ताराचंद मीणा को सौंपे ज्ञापन में मुखिया शंकर लाल ने अपने परिवार के साथ पुलिस से आहत होकर इच्छा मृत्यु मांग ली। शंकर का कहना है कि सेमारी थाने का जांच अधिकारी एक मामले में निष्पक्ष जांच नहीं कर रहा है। यही नहीं पुलिसकर्मियों के द्वारा उसको बार-बार प्रताडि़त किया जा रहा है। शंकरलाल का कहना है कि उसके परिवार को न्याय नहीं मिलेगा उसको ये बात पता है ऐसे में उसको और उसके परिजनों को इच्छा मृत्यु का आदेश जारी करे। प्रार्थी परिवार का कहना है कि जांच अधिकारी के बजाय किसी निष्पक्ष अधिकारी को मौके पर भेजकर राहत पहुंचाने की कृपा करें या फिर उसको अच्छा मृत्यु देने का आदेश दें। उनका कहना है कि दोनों ही स्थिति में कोई कार्रवाई नहीं हुई तो वो कलेक्ट्री के बाहर अपने परिवार के साथ आत्मदाह करेगा। आपको बता दें कि सोमवार को शंकर अपने परिवार के 11 अन्य सदस्यों के साथ इच्छा मृत्यु मांगने आया। इसमें एक दूधमुही बच्ची है जबकि 5 छोटे-छोटे बच्चे और दो बेटे सहित परिवार की 3 महिला भी शामिल है।

ज्ञापन में लेकर आया इच्छामृत्यु | पुलिस की कार्यशैली से आहत परिवार के 12ने आत्मदाह की चेतावनी

Theudaipurupdates, udaipurnews, udaipurupdates, updatesudaipur, lakecityNews, udaipurhabar, udaipurlive, udaipurlivenews, udaipurcrime, udaipurCrimenews, Crimefile