कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन

0
राजसमंद। हल्दीघाटी में मजार को पूरा संपदा घोषित करने की मांग को लेकर एडीएम को ज्ञापन सौंपते कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के पदाधिकारी।

जिला अंजूमन कमेटी ने भी दिया समर्थन

हल्दीघाटी हकीम खान सूरी की मजार को पूरा संपदा घोषित करने की मांग
राजसमंद, चेतना भाट। हल्दी घाटी स्थित हकीम खां सूरी की मजार पर असामाजिक तत्वों द्वारा तोड़-फोड़ करने के विरोध में जिला कांगे्रस अल्पसंख्यक विभाग द्वारा जिला कलक्टर अरविंद कुमार पोसवाल एवं जिला पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी से मुलाकात कर राष्ट्रपति के नाम सौंपते हुए मजार को पूरा संपदा घोषित कर आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही मांग की। इस दौरान अंजूमन कमेटी पदाधिकारियों ने भी अपना समर्थन दिया। ज्ञापन में बताया कि ऐतिहासिक हल्दीघाटी युद्ध के दौरान महाराणा प्रताप की फौज के सेनापति रहे हजरत हकीम खान सूरी युद्ध में शहीद हुए है। जिनकी देह को हल्दीघाटी के पास ही दफनाया गया। जिस पर तत्कालीन समय से ही मजार शरीफ बना हुआ है, जो सभी धर्मों की आस्था के प्रतीक होकर हिंदुस्तान की गंगा-जमुना तहजीब का एक ऐतिहासिक प्रमाण है। इस मजार शरीफ को 2 दिन पूर्व सांप्रदायिक सौहार्द बिगाडऩे के मकसद से कुछ असामाजिक तत्वों ने तोड़-फोड़ कर नुकसान पहुंचाया। जिसके लिए असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार कर कड़ी कार्यवाही की मांग की जाती है। आज से करीब तीन चार वर्ष पूर्व भी ऐसी ही घटना यहां पर की गई थी, जिस पर सख्त कार्यवाही नहीं होने से यह घटना दोहराई गई है। ज्ञापन में हजरत हकीम खान सूरी के मजार शरीफ को पूरा संपदा घोषित कर पुरातत्व विभाग को ऐतिहासिक धरोहर स्वरूप संरक्षण व सुरक्षा प्रदान करने को निर्देशित किया जाकर हजरत हकीम खान सूरी की शहादत को यथोचित सम्मान दिया दिए जाने की मांग की गई। साथ ही ऐसे ऐतिहासिक विरासत के स्वरूप के साथ छेड़छाड़ व नेस्तनाबूद करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की आदेश जारी किए जाने की मांग की गई। इस मौके जिला अंजुमन कमेटी अध्यक्ष अख्तर खान पठान द्वारा भी ज्ञापन सौंपा इस संबंध में कड़ी कार्रवाई की मांग की। इस अवसर पर कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के निवर्तमान जिलाध्यक्ष शराफत हुसैन फौजदार, जिला अंजुमन कमेटी के सदर अख्तर खान पठान, टीपू सुल्तान सिलावट, असरार खान पठान, अब्दुल सत्तार शाह, जाकिर खान, जमील अहमद आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here