प्राधिकरण ने बालिका गृह व वन स्टॉप सेंटर का किया औचक निरीक्षण

राजसमंद। निरीक्षण के दौरान आरके जिला चिकित्सालय में संचालित वन स्टॉप सेंटर में इंद्राज रजिस्टर का अवलोकन करते प्राधिकरण सचिव मनीष कुमार वैष्णव।

कमियां पाए जाने पर पर दिए आवश्यक दिशा निर्देश
राजसमंद, चेतना भाट। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष गिरीश कुमार के निर्देशानुसार मंगलवार को प्राधिकरण सचिव मनीष कुमार वैष्णव ने आसरा विकास संंस्थान की ओर से संचालित मां पन्नाधाय बालिका गृह का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान गृह में 11 बालिकाएं सीएनपीसी एवं 2 बालिकाएं उपेक्षित तथा एक बालका सीएनपीसी उपस्थित पाए गए। पूर्व में कोरोना संक्रमित पाई गई दो बालिकाएं अब पूर्ण रूप से स्वस्थ पाई गई। वहीं चिकित्सक राजेश कुमारी द्वारा 3 जून को बालिकाओं का अंतिम स्वास्थ्य परीक्षण किया गया तथा चेतना खत्री द्वारा प्रति सप्ताह रविवार को स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। इस दौरान सचिव वैष्णव ने कम्प्यूटर प्रशिक्षण एवं अन्य रोजगारोन्मूखी प्रशिक्षण दिलाने पर जोर दिया ताकि बालिकाएं आत्मनिर्भर बन सकें। गृह प्रशासन द्वारा बताया गया कि गृह में कार्मिकों द्वारा कोविड-19 से बचाव के सभी उपाय अपनाए जा रहे है। निरीक्षण में गृह परिवेक्षक सरोज उपाध्यय ने सहयोग प्रदान किया। इसके बाद सचिव ने आरके जिला चिकित्सालय में संचालित वन स्टॉप सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान 2 महिला कार्मिक राजलक्ष्मी एवं अंजना खटीक उपस्थित मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here