उदयपुर। पूरे प्रदेश में बिजली के झटके आमजन को रह रहकर परेशान कर रहे है। कोरोना काल में पहले से स्थिति विकराल है। इसी बीच आया बिजली का बिल कोढ़ में खाज का काम रहा है। आज सुबह से एक बिजली का बिल काफी वायरल हो रहा है। ये बिल गिंगला के पेमाराम का है। इस बिल में जमा कराने की जो राशि आई है वो देखकर आपके होश फाख्ता हो जाये। हजार, लाख नहीं बल्कि करोड़। पूरे 3 करोड़ 71 लाख 61 हजार रुपए। इस बिल को लेकर ईमित्र और पेटीएम वगेरा पर राशि जाननी चाही तो निकली 6414 रुपये। अब सवाल ये उठता है कि इतनी बड़ी राशि आई कहा से है। तो सुनिए ये राशि बिल की प्रिंट मिस्टेक हो सकती है। कुछ युवाओं का ये कहना है कि ये एडिट किया हुआ है। उस पर भी हमने एक्सपर्ट के व्यू लिए तो उन्होंने बताया कि ये एडिट नहीं है। ये बिल प्रोपर प्रिंट ही आया है। इससे पूर्व भी कई बिल हजारों और लाखों में आ चुके है। कई लोग इस अंधेर नगरी के लचर रवैये से काफी परेशान है।

ईमित्र से निकाला गया वास्तविक राशि का प्रिंट

ऐसी ऐसी लापरवाही

कही घरों में एक बल्ब ही जलता है उसके बावजूद उनका बिल 25 हजार 30 हजार तक आ चुका है। एक महिला बीपीएल है और उसके भी बिजली का बिल इसी प्रकार आया। कई दुकानें पूरे लॉकडाउन में बंद रही मगर फिर भी उसका बिल लाखों में आ रहा है। कोई हजारों के बिल लेकर बिजली निगम के चक्कर काट रहा है तो कोई लाखों के। अब सवाल ये उठता है कि इतने सारे बिजली बिल में लापरवाही कैसे हुई। फिलहाल गलती भले ही बिजली निगम की हो मगर विपक्ष ने इसको मुद्दा बना रखा है और सत्ता पक्ष को घेर रहे है।