राजसमंद, चेतना भाट। राजसमन्द विधायक व पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी की अस्थि कलश यात्रा 25 से 28 दिसम्बर तक राजसमन्द विधानसभा क्षेत्र में निकलेगी। आमजन द्वारा अस्थि कलश के अंतिम दर्शन कर उन्हें भावांजली अर्पित की जाएगी। भाजपा पूर्व जिला महामंत्री व अस्थि कलश यात्रा समिति के संयोजक सत्यनारायण पूर्बिया ने बताया कि हर जन का विश्वास अर्जित करने वाली किरण माहेश्वरी के आकस्मिक निधन से क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ता सहित आमजन स्तब्ध है। उन्हें आज भी विश्वास नहीं हो रहा। वे क्षेत्र के हर गाँव, गली, ढाणी, मंझरो तक पहुंच कर गरीब से लेकर हर वर्ग के लोगों के दुखसुख में शामिल होकर उन्हें हिम्मत और हौसला देती थी। किरण के प्रति आमजन में अथाह प्रेम, स्नेह, अनुराग रहा है, वे हर परिवार के सदस्य की तरह जन्म से लेकर मृत्यु संस्कारों में सहभागी होकर एक आदर्श जन प्रतिनिधि के दायित्व का सटीक निर्वाह करती रही है। उनके अचानक निधन से क्षेत्र को गहरी क्षति पहुंची है और आमजन वेदना में डूबा है। कोविड-19के नियमों की पालना के कारण आमजन अपनी विधायक के अंतिम दर्शन भी नहीं कर पाए। यह वेदना आमजन के दुखद भावों से झलक रही है। यात्रा संयोजक सत्यनारायण पूर्बिया ने बताया कि क्षेत्र के आमजन की प्रबल इच्छा है कि माहेश्वरी के अस्थि कलश के दर्शन कर पुष्पांजली के माध्यम से अपनी संवेदना व्यक्त कर सके। बड़ी संख्या में क्षेत्रवासियों ने किरण के शोकमग्न परिवारजनों से भेंट कर किरण के अस्थि कलश की यात्रा की अनुमति का आग्रह कर इस अवसर पर परिवारजनों की सहभागिता का भी अनुरोध किया। आमजन के भावुक आग्रह को परिवारजनों ने स्वीकार कर लिया। पूर्बिया ने बताया की राजसमन्द विधानसभा क्षेत्र में निकलने वाली अस्थि कलश यात्रा के प्रभारी बहादुरसिंह राठौड़ फरारा, सहप्रभारी दिनेश बडाला एवं हितेश जोशी होंगे। जिला उपाध्यक्ष महेश आचार्य मिडिया एवं सम्पर्क प्रभारी होंगे। नगर परिषद सभापति सुरेश पालीवाल एवं राजसमन्द प्रधान अरविंदसिंह राठौड़ ने भी पत्रकार वार्ता को संबोधित किया।

पड़ासली से आरम्भ होगी कलश यात्रा

यात्रा प्रभारी बहादुर सिंह राठौड़ व सहप्रभारी दिनेश बडाला ने बताया कि आमजन की भावना से जुड़ी इस अस्थि कलश यात्रा का आरम्भ 25 दिसम्बर प्रात: 8 बजे प्रभु चारभुजा नाथ के दर्शन कर यात्रा पड़ासली से आरम्भ होगी। चार दिन तक यात्रा क्षेत्र की प्रत्येक पंचायत व नगर से होकर निकलेगी। आमजन द्वारा पुष्पांजली कर उन्हें श्रद्धांजली अर्पित की जाएगी। यात्रा 28 दिसम्बर को मातृकुंडिया में अस्थि विसर्जन कर यात्रा का समापन होगा। राठौड़ व बडाला ने बताया कि यात्रा की संपूर्ण तैयारिया कर ली गई है। अस्थि कलश यात्रा मे कोविड-19 के सभी नियमों की पालना सुनिश्चित की जाएगी। यात्रा राजसमंद विधानसभा क्षेत्र की 48 पंचायत मुख्यालयों के 148 गांवों और राजसमन्द शहरी क्षेत्र से होकर जाएगी। मातृकुण्डिया में वैदिक विधि विधान से अस्थि विसर्जन होगा एवं श्रद्धांजलि सभा आयोजित होगी।

राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील की बैठक सम्पन्न


खमनोर। राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील की बैठक मंगलवार को देलवाड़ा स्थित काशेश्वर महादेव मंदिर के प्रांगण में प्रदेश सचिव शंकरसिंह राजपूत की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें जिला उपाध्यक्ष योगेंद्रसिंह झाला ने बताया कि कक्षा 1 से 8वीं तक के विद्यार्थियों को सप्ताह में दो बार विद्यालय बुलाकर पढ़ाई शुरू कराएं तथा अतिशीघ्र विद्यालय पंचांग जारी करें। वहीं कक्षा 9 से 12 के विद्यार्थियों को सोशल डिस्टेंस की पालना करते हुए पढ़ाई सुचारू रूप से चलाई जाए। सरकार द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई के अंतर्गत स्माइल-2 कार्यक्रम को स्थगित करें, क्योंकि अधिकतर बच्चों के पास न तो मोबाइल न गांव में नेटवर्क है और न ही अभिभावकों के पास बैलेंस रीचार्ज करवाने के पैसे है। शिक्षक घर-घर जाकर गृह कार्य दे रहे है, इसमें कोरोना संक्रमण का खतरा बना रहेगा। परिवार के सभी सदस्य शिक्षिकों को घेर लेते है इससे कोरोना गाइड लाइन के नियमों का उल्लंघन होगा। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष जसवंत पुरी गोस्वामी, गोपालसिंह झाला, विवेक जोशी, तहसील अध्यक्ष बहादुरसिंह चुण्डावत, रामचन्द्र गमेती, नर्मदा तेली सहित शिक्षक मौजूद थे।