विगत एक माह से समस्या का नहीं हुआ समाधान
राजसमंद, चेतना भाट। जिला मुख्यालय पर कांकरोली-राजनगर रोड़ स्थित जलचक्की के समीप ऑबीसी (पंजाब नैशनल) बैंक के सामने सडक़ पर बहता पानी सडक़ से गुजरने वाले लोगों के लिए आफत बन चुका है। सडक़ पर इस तरह से बहता गंदा पानी नगर परिषद की सफाई व्यवस्था की पोल खोल रहा है। विगत एक माह से यहां पर नाली की सफाई के अभाव में सुबह से लेकर शाम तक गंदा पानी सडक़ पर बहने लग जाता है। खासकर सुबह के समय में नाली का गंदा पानी सडक़ पर तेज गति से बहना शुरू हो जाता है, जो दिनभर जारी रहता है। पैदल चलने वाले राहगीर सहित शहरवासी सडक़ पर बहते गंदे पानी से गुजरने को मजबूर हो रहें है। यहीं नहीं बैंक के बाहर नाली से निकला गंदे पानी के साथ का गंदा कचरा भी जमा रहता है, जिसके चलते उपभोक्ताओं को भी गंदे पानी व दलददल से निकलना पड़ रहा है। उपभोक्ताओं ने नाली से निकलने वाले गंदे पानी से परेशान होकर समस्या समाधान करने के लिए सभापति से लेकर सम्बंधित सफाई जमादार को शिकायत की। लेकिन उसके बावजूद भी समस्या ज्यों के त्यों बनी हुई है। शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे सफाई कर्मियों ने नाली से मलबा तो निकाला लेकिन गंदगी युक्त मलबें को उठाने के बजाय वहीं पर छोड़ दिया गया। जो दूसरे दिन फिर नाली से निकले पानी के साथ नाली में समाहित हो जाता है। जिसके चलते फिर नाली का सड़ांद मारता बदबुदार पानी से लोगों को नियमित रूप से गुजरना हो रहा है।

13 डिग्री पर पहुंचा न्यूनतम तापमान, फीका पड़ा ठंड का असर


राजसमंद, चेतना भाट। जिले में नये साल के प्रारंभ के साथ ही आसमां में बादल छाए रहने से पिछले तीन दिनों से जहां ठंड से थोड़ी राहत मिली है वहीं तापमान में भी बढ़ोत्तरी हुई है। पिछले दो दिनों से कोहरे सहित बादल छाए रहने से ठंड का असर कम रहा। रविवार को न्यूनतम तापमान 1 डिग्री की बढ़त के साथ 13 डिग्री व अधिकतम तापमान 1.3 डिग्री की बढ़त के साथ 26.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रविवार को आसमां साफ रहा लेकिन दिन भर बादलों का आना-जाना लगा रहा। वहीं हल्की हवा भी चली। लेकिन सुबह को घना कोहरा छाया रहा जबकि ठंड का असर कम रहा। दिन चढऩे के साथ ही धुप भी चमक उठी। शनिवार को अधिकतम तापमान 25.4 एवं न्यूनतम तापमान 12 डिग्री दर्ज किया गया था। रविवार को मौसम साफ रहने के साथ ही तापमान में बढ़ोत्तरी के चलते सर्दी का असर फीका रहा। दोपहर बाद हल्की हवा चलने से कोहरा भी साफ हो गया।