राजसमंद, चेतना भाट। आगामी 12 दिसम्बर को जिले में आयोजित की जा रही राष्ट्रीय लोक आदालत के सफल आयोजन को लेकर मंगलवार को जिला मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण न्यायाधीश शिवानीसिंह की अध्यक्षता में बीमा कंपनियों के प्रतिनिधि एवं अधिवक्तागण के साथ ऑनालाईन बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक प्रकरणों को रैफरल करने हेतु निर्देश प्रदान किए। न्यायाधीश शिवानीसिंह ने बताया कि पारिवारिक प्रकरण, आपराधिक प्रकरण, दीवानी प्रकरण, राजीनामा योग्य फौजदारी प्रकरण, चैक अनादरण (एनआई एक्ट) के प्रकरण, बैंक से संबंधित प्रकरण एवं दावे, एमवी एक्ट, एमएसीटी क्लेम, समस्त उपभोक्ता प्रकरण, वैवाहिक प्रकरण, प्रि-लिटिगेशन आदि प्रकार के मामलों का लोक अदालत की भावना से दोनों पक्षों की आपसी सहमति व राजीनामे से सौहार्दपूर्ण वातावरण में विवाद का निस्तारण करने हेतु बीमा कंपनियों के प्रतिनिध एवं अधिवक्तागण को प्रेरित किया। इस अवसर पर अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश सिद्धार्थ दीप, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट मनोज जलुथरिया, ने भी बीमा कंपनियों एवं अधिवक्ताओं को राष्ट्रीय लोकअदालत के सम्बन्ध में आवश्यक निर्देश प्रदान करते हुए अधिक से अधिक प्रकरणों को निस्तारण करने हेतु रैफरल करने का आह्वान किया।