राजसमंद। जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी निमिषा गुप्ता ने कहा कि ऐसे कार्य किये जाये जिससे राजीविका की योजनाओं का लाभ आमजन को मिले। जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी बुधवार को जिला परिषद में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के तहत ग्रामीण आजीविका विकास परिषद् राजसमन्द के खमनोर ब्लाॅक परियोजना प्रबंधन इकाई के स्वयं सहायता समूह कार्यो एवं प्रगति की समीक्षा कर रही थी।

उन्होंने इस अवसर पर खमनोर ब्लाॅक में चल रहे समूह गठन, बैंक लिंकेज, आर्थिक गतिविधियों की चर्चा की गई। गुप्ता ने हर क्लस्टर में लघु ओद्योगिक इकाईयां अगरबत्ती, सेनट्री नेपकीन, मसाला, चैत्री गुलाब, मीनाकारी एवं ज्वेलरी इत्यादि स्थापित की जानी है इसकी प्रगति की समीक्षा कर व सेमा आदर्श गांव में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं का रोजगार उपलब्ध हो ताकि महिलाए आर्थिक रूप से मजबूत हो सके। बैठक में जिला परियोजना प्रबंधक हितेश चौबीसा ने राजीविका में चल रहे नाॅन फार्म लाइवलीहुड गतिविधि के बारे में विस्तार से चर्चा की। बैठक में अशोक कुमार सेन, ब्लाॅक परियोजना प्रबध्ंाक अमित जोशी व क्लस्टर प्रबंधक बागोल-दुर्गा, सेमा-भगवती, देलवाड़ा-मनीषा, खमनोर-चन्दा, कोठारिया-धापू कंवर आदि उपस्थित थे।