राजसमंद, चेतना भाट। जिले में एक के बाद एक हर रोज बढ़ती कोरोना मरीजों की संख्या चिंता का विषय बनाता जा रहा है। दिसम्बर के दूसरे सप्ताह के बाद से ही कोरोना ने अपना कहर ढा दिया दिया है। जैसे जैसे पारा सर्दी का पारा लुढकता जा रहा है वैसे-वैसे कोरोना बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर कई जागरूकता अभियान तक चलाए जा रहे है। लेकिन लोगों के स्वयं की जागरूकता की कमी एवं लापरवाही के चलते लगतार हर सप्ताह में औसतन 25 रोगी सामने आ रहे है। शनिवार को प्राप्त सात ब्लॉकों की कोरोना सैम्पल की जांच रिपोर्ट में जिले से 41 नए व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए है। जिसमें से मात्र राजसमंद ब्लॉक से ही 17 कोरोना संक्रमित सामने आए है। जबकि नाथद्वारा खमनोर ब्लॉक से 7 व्यक्ति, रेलमगरा ब्लॉक से 5, देवगढ़ ब्लॉक से 3 व्यक्ति, आमेट ब्लॉक से 4 व्यक्ति, भीम ब्लॉक से 4 व्यक्ति, केलवाड़ा ब्लाक से एक व्यक्ति संक्रमित पाए गए है। सभी को स्थिति के अनुसार घर पर तथा संस्थागत आइसोलेशन में रखा गया है तथा पोजिटिव के सम्पर्क में आने वाले लोगों के सैम्पल लेने की कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

ज्यादातर युवा वृद्ध हो रहे संंक्रमित

कोरोन सेम्पल की रिपोर्ट में ज्यादातर युवा वर्ग एवं उम्र दराज व्यक्ति संक्रमित हो रहे है। जिसमें 25 से 30 वर्ष से लेकर 60 से 80 वर्ष तक की उम्र के व्यक्ति है। बुजूर्ग व्यक्तियों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के कारण संक्रमण का खतरा अधिक रहता है। जबकि युवा वर्ग की लापरवाही के चलते संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है। अधिकतर युवाओं के नियमों की पालना नहीं करने, भीड़ वाले स्थानों पर भ्रमण करने, बाजार की वस्तुओं का बिना स्वच्छता के सेवन करना संक्रमित की स्थिति को उत्पन्न कर रहा है।
पिछले 10 दिनों में सामने आए संक्रमित
दिन संक्रमित
16 दिसम्बर 26
17 दिसम्बर 20
18 दिसम्बर 20
19 दिसम्बर 29
20 दिसम्बर 23
21 दिसम्बर 29
22 दिसम्बर 36
23 दिसम्बर 40
24 दिसम्बर 35
25 दिसम्बर 35
26 दिसम्बर 41
कुल 334 संक्रमित