सीएमएचओ ने चिकित्सा संस्थानों का किया निरीक्षण
राजसमंद, चेतना भाट। मौसम परिवर्तन के मध्येनजर मौसमी बीमारियों की रोकथाम के उपाय सुनिश्चित करें, आशा प्रति दिन 10 घरों का भ्रमण सुनिश्चित करें तथा आशा एवं एएनएम आमजन में सरकारी चिकित्सा संस्थानों को लेकर भरोसा कायम करें। यह निर्देश सीएमएचओ डॉ. प्रकाशचन्द्र शर्मा ने रेलमगरा ब्लॉक के कोटड़ी व गिलुण्ड प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो पर आयोजित सैक्टर बैठक में दिए। इस दौरान उन्होंने आशा एएनएम को कहा कि ग्रामीणो में अपनी सेवाओं से भरोसा कायम करें जिससे आमजन चिकित्सा सेवाओं के साथ साथ जनकल्याणकारी योजनाओं से भी लाभांवित हो सके। डॉ. शर्मा ने कहा कि मलेरिा, डेंगू, चिकनगुनिया, स्क्रब टाईफस जैसी बीमारियों की रोकथाम के लिए सभी सजग रहे। उन्होंने चिकित्साधिकारीयों को भी कहा कि किसी गांव या ढाणी से एक ही बीमारी के मरीज आ रहे है तो तुरंत जिला स्तर पर सुचित करें जिससे समय रहते प्रभावी कार्यवाही की जा सके। डॉ. शर्मा ने सीएचसी रेलमगरा, दरीबा, पीएचसी धनेरिया, कोटड़ी तथा गिलुण्ड का औचक निरीक्षण किया तथा कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए आइसोलेशन की समुचित व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही चिकित्सा संस्थानों के प्रभारी अधिकारियों एवं कार्मिकों के साथ सीएम नि:शुल्क दवा योजना, नि:शुल्क जांच योजना, बायोमेडिकल वैस्ट निस्तारण, गैर संचारी रोगों की रोकथाम, जननी सुरक्षा योजना, टीकाकरण, मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए संस्थानों पर प्रबंध को लेकर विस्तार से चर्चा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दियें। निरीक्षण के दौरान चिकित्सा अधिकारी प्रभारी, चिकित्सक, एपिडिमियोलोजिस्ट हरीश कुमार पलासिया एवं अन्य कार्मिक उपस्थित थे।