उदयपुर। पाकिस्तान द्वारा इंडियन एयरफोर्स के जाबांज विंग कमांडर अभिनव वर्धमान को छोड़ने के पीछे के कारणों का खुलासा हो गया है। दरअसल पाकिस्तान दुनिया को तो यही दिखा रहा था कि वो ये सब दोनों देशों के बीच शांति कायम करना चाहता है, लेकिन इसके पीछे की असली वजह भारतीय सेना और एयरफोर्स का डर था। यह खुलासा पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने पाकिस्तान की संसद में किया।  


भारत का डर ऐसा की कांपने लगे पाक आर्मी चीफ के पैर


ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने अभिनंदन की घटना का जिक्र करते हुए संसद में कहा- पाकिस्तान ने अभिनंदन को भारत के डर के कारण छोड़ा था। पाकिस्तान को डर था कि कहीं भारत हमला न कर दे। जिस बैठक में विंग कमांडर को छोड़ने का निर्णय लिया गया उसमें पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा के पैर कांप रहे थे। उनके चेहरे पर पसीना आ रहा था। उन्हें डर था कि भारत कहीं पाकिस्तान पर हमला न कर दे। 


पाक विदेश मंत्री कुरैशी बोले- खुदा के वास्ते उसे जाने दो


वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान असेंबली के पूर्व स्पीकर अयाज सादिक ने कहा- विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी को जैसे ही पता चला कि भारतीय विंग कमांडर पाकिस्तान की गिरफ्त में है तब वो कांपने लगे। अभिनंदन को लेकर वह कह रहे थे खुदा के वास्ते उसे जाने दें। पाकिस्तान को डर था कि अगर फायटर प्लेन पायलट अभिनंदन को रात 9 बजे तक नहीं छोड़ा गया तो भारत पाकिस्तान पर तगड़ा पलटवार कर सकता है। इसी डर को पाकिस्तान ने शांति कायम करने जैसे दिखावे में बदल दिया।