पाणुन्द से करण औदीच्य की रिपोर्ट

उदयपुर। शारदीय नवरात्र के तहत दूसरे दिन मेवल की प्रसिद्ध शक्ती पीठ ईड़ाणा माता मंदिर में रविवार को सुबह से ही भक्तों का तांता लगा रहा। जिन्हें सरकारी गाइड़ लाइन के तहत ही माता के दर्शन कराए गए। ट्रस्ट द्वारा दूसरे दिन मां की प्रतिमा का विशेष श्रृंगार किया गया। रविवार होने दिनभर विभिन्न जगहों से पैदल यात्रियों का भी आना लगा रहा। दर्शन के बाद ईडाणा माता से भक्तों ने कोरोना नामक राक्षस का नाश करने की अर्जी लगाई भक्त बोले-हे माँ इस कोरोना का जड़ से नाश करो। रक्तबीज कोरोना को आप ही खत्म करो माँ।

पण्डित कृष्णवल्लभ भट्ट के सानिध्य में संध्या वंदन, भु सुधि, भुत सुधि प्राण प्रतिष्ठा, अंतर मात्रिका, न्यास बहिमातृका, कला मात्रिक, शोंडा न्यास कर गणपति मातृका स्थापित पूजन हवन हुआ। इसके पश्चात मां ईड़ाणा की विशेष पूजा- अर्चना कर दोपहर आरती व सांयकाल की आरती उतारी गई। पण्डित चौबीसा द्वारा विशेष देवी पीठ पर पत्रा साधन व राजोपचार पूजन सम्पन्न कराई गई। मुख्य प्रतिनिधि यजमान उदयपुर निवासी भंवर सोनी रहे। सरंक्षक लवदेव सिंह कृष्णावत, अध्यक्ष डॉ. कमलेन्द्र सिंह व ट्रस्ट के अन्य सदस्यों ने राष्ट्र सम्रध्दि की कामना की व मां ईड़ाणा से प्रार्थना की गई।


इधर क्षेत्र के प्रसिद्ध भीण्ड़र – बम्बोरा मार्ग पर स्थित सवना बावजी स्थानक पर भी भक्तो की भीड़ रही। पाणुन्द के आमलिया बावजी, खाकलदेव जी, कालिका माता मंदिर, अंबे मां मदिंर आदि देवरो पर विशेष पूजा – अर्चना की जा रही है। व समस्त गरबा मण्ड़ल द्वारा रात्रि में प्रतिमा की आरती कि जा रही है।

फोटो- दूसरे दिन श्रृंगारित ईड़ाणा मां की प्रतिमा व हवन में आहुतिया देते यजमान – पाणुन्द।