उदयपुर। पिछले महीने सोशल मीडिया के जरिए मशहूर हुआ ‘बाबा का ढाबा’ इन दिनों फिर सुर्खियों में है। लेकिन आप इसके पीछे की वजह जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे।दिल्ली के मालवीय नगर स्थित बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने फ़ूड ब्लॉगर और यूट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ शनिवार को सोशल मीडिया के जरिये उनकी मदद के लिए जुटाए गए धन के साथ कथित हेराफेरी’ करने के आरोप में शिकायत दर्ज कराई है।
बता दें कि गौरव ने ही 7 अक्टूबर को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर इस ढाबा के बारे में बताया था। इसी वीडियो में बुजुर्ग दंपति ने अपनी परेशानियां बताई थी। इस वीडियो के वायरल होते ही बाबा का ढाबा देशभर में
फेमस हो गया। बाबा की मदद को बड़ी संख्या में लोग खाना खाने पहुंचने लगे। बहुत से लोगों ने ढाबा पर पहुंचकर पैसे देकर बाबा की मदद की तो कई ने ऑनलाइन।  
बाबा का आरोप- गौराव ने अपने परिवार के खाते में मदद की बड़ी राशि इकट्ठा की
बाबा शनिवार को कुछ लोगों के साथ मालवीय नगर थाने पहुंचे और गौराव के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। बाबा ने यूट्यूबर पर धोखाधड़ी, बदमाशी, आपराधिक साजिश का आरोप लगाया है। पुलिस को दी शिकायत में बाबा ने कहा- गौरव ने उनका वीडियो शूट करके सोशल मीडिया पर पोस्ट किया और लोगों मदद करने की अपील की। उसने जानबूझकर अपने परिवार की बैंक डिटेल्स साझा की और दान के रूप में एक मिली बड़ी राशि इकट्ठा की। डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर का कहना है कि अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की है।पूछताछ कर रहे हैं।

गौरव ने आरोपों का खंडन किया
फ़ूड ब्लॉगर गौरव ने बाबा द्वारा अपने ऊपर लगाए सभी आरोपों का खंडन किया है। वे बोले- ‘₹उन्होंने सारा पैसा बाबा के खाते में भेज दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लेन-देन की तीन रसीदें भी साझा की है। जिसमें एक लाख रुपये और 2 लाख 33 हजार रुपये के दो चेक और 45 हजार रुपये के बैंक पेमेंट की एक रसीद शामिल है। गौरव बोले-तीन दिन में यही राशि जमा हुई थी। साथ ही उन्होंने खाते का एक स्टेटमेंट भी शेयर किया है जिसमें बाबा को मिले दान की डिटेल है।वे बोले- दान करने वाले सभी लोग स्टेटमेंट में अपनी दान दी राशि की जांच कर सकते हैं।