राजसमंद, चेतना भाट। वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे जनजागरूकता अभियान के प्रभाव आंकलन के लिए जिला कलेक्टर अरविंद पोसवाल रविवार दोपहर नगर परिषद आयुक्त जनार्दन शर्मा के साथ शहर के बाजारों का औचक निरीक्षण कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया। उन्होंने कोरोना जन जागरूकता अभियान में जन सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय व्यापारिक संगठनों से कोरोना गाइड लाइन की पालना करने तथा प्रतिष्ठानों पर आने वाले ग्राहकों को भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी देने का सुझाव दिया। नो मास्क नो एंट्री को सख्ती से पालना करते हुए बिना मास्क पाए जाने पर जुर्माना वसूलने तथा सम्बन्धित प्रतिष्ठान का लाइसेंस निलम्बित करने तथा सीज करने कार्यवाही करने के निर्देश दिए। पोसवाल ने राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोविड -19 की गाइड लाइन के प्रति लोगों को समजाईश करने के लिए व्यापक जनसम्पर्क एवं प्रचार-प्रसार करने तथा कोविड के सुरक्षात्मक उपायों की जानकारी को प्रचारित करने के निर्देश प्रदान किए ।

मनरेगा विकास कार्यों का निरीक्षण, दिए निर्देश

जिला कलक्टर पोसवाल ने समीपवर्ती गांव कुंवारिया के ढीकली तालाब, पीपली अहिरान आदि गांवों का दौरा कर वहां पर चल रहे मनरेगा कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने मौजूद अधिकारियों को कार्य के दौरान कोरोना वायरस से बचाव के सभी उपाय सुनिश्चित करने, श्रमिकों के बीच सामाजिक दूरी तथा मास्क का उपयोग एवं नियमित रूप से हाथ धोना आदि सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने श्रमिकों से संवाद कर श्रमिकों से भुगतान संबंधी जानकारी ली तथा उनकी समस्याओं को जाना एवं अधिकारियों को श्रमिकों के भुगतान संबंधी कार्रवाई समय पर करने के निर्देश दिए।