वार्ड 14 की सीट बनी हॉट सीट
राजसमंद, चेतना भाट। पंचायत राज चुनाव को लेकर कुंभलगढ़ पंचायत समिति में धीरे-धीरे चुनावी हलचल और बढऩे लगी है। डोर-टू-डोर प्रत्याशियों का जनसम्पर्क करने का सिलसिला गति पकडऩे लगा है। कुंभलगढ़ पंचायत समिति में 17 सीटों पर कुल 39 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे है। 17 सीटों में से 8 सीटें चारभुजा की है। इनमें से वार्ड 14 की सीट हॉट सीट बन गई है। इसका कारण कांगे्रस व भाजपा प्रत्याशी आमने-सामने होने से है और दोनों ही गुर्जर समाज के साथ चारभुजा कस्बे के ही है। इस सीट का हॉट सीट बनाने का एक यह भी कारण है कि यहां पिछले 25 सालों से भाजपा प्रत्याशी ही अपनी जीत दर्ज करता आया है। इसी को लेकर मैदान में उतरे कांगे्रस प्रत्याशी ने इस सीट को बचाने के प्रयास तेज कर दिए है। प्रचार-प्रसार के साथ ही जगह-जगह बैनर व पोस्टर लगाए गए है। ग्रामीणों से सम्पर्क कर आमसभाएं की जा रही है।

टिकट बंटवारे की नाराजगी कहीं ना पड़ जाए भारी

ईधर, जहां पूरे जोर शोर से प्रत्याशी व प्रतिनिधि चुनावी प्रसार में दमखम लगा रहे है। वहीं भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता में कुछ उथल- पूथल भी मची हुई है। टिकिट बंटवारे को लेकर एक-दूजे से खफा है जिस कारण क्षेत्र में प्रत्याशियों के साथ पूर्ण रूप से नहीं जुड़ पा रहे है। इसको देखते हुए कहीं ना कहीं भाजपा की डोर कमजोर पड़ रही है। इस क्षेत्र में दिग्गज नेता एवं भाजपा विधायक सुरेन्द्रसिंह राठौड़ ने भी अभी तक प्रत्याशियों के समर्थन में किसी भी प्रकार का दौरा आदि नहीं किया है। जबकि कांगे्रस से पूर्व विधायक गणेशसिंह परमार कार्यकर्ताओं के साथ अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के समर्थन में जनावद, लाम्बोड़ी, खरनोटा आदि गांवों में डोर-टू-डोर जनसम्पर्क कर प्रत्याशियों के समर्थनमें मतदान करने की अपील में जुटे हुए है।

वार्ड में एक में त्रिकोणीय मुकाबला

इधर, सेवंत्री उमरवास वार्ड एक में भाजपा के बागी प्रत्याशी के मैदान में होने से इस सीट पर त्रिकोणीय मुकाबले ने इसे और रौचक बना दिया है। जबकि प्रधान के लिए सामान्य महिला पद आरक्षित है। कुंभलगढ़ पंचायत समिति में पांच बार हुए चुनाव में तीन बार भाजपा के एवं दो बार कांगे्रस के प्रत्याशी प्रधान की सीट तक पहुंचे है।