राजसमंद, चेतना भाट। हिन्दूस्तान जिंक, जतन संस्थान तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान में संचालित खुशी परियोजना के तहत स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से समीपवर्ती महासतियों की मादड़ी में कुपोषण निवारण शिविर आयोजित किया गया। शिविर में बच्चों के वजन, लम्बाई आदि स्वास्थ्य संबंधी जांच की गई। साथ ही कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों को दवाईयां एवं पोषण अमृत के पैकेट वितरित किए गए। शिविर का उद्घाटन सरपंच सीमा कुंवर ने किया। इस अवसर पर पूर्व सरपंच प्रहलादसिंह, संस्थान से रोहित पालीवाल, दीपक वैष्णव, कुमकुम पुर्बिया, एएनएम सुनीता कुमावत, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शंकरी गुर्जर, आशा राव, पुष्पा, लक्ष्मी गुर्जर, श्यामा गुर्जर, आशा सहयोगिनी आशा पालीवाल आदि उपस्थित थे।

अखंड कीर्तन बाबा नाम केवलम सम्पन्न

राजसमंद। नगर के सौ फीट रोड़ स्थित आनंदराज कुटीर में रविवार को आनंद मार्ग के साधकों की ओर से बाबा नाम केवलम कीर्तन आयोजित किया गया। आनंदमयी के निर्देशन में सभी साधकों ने तीन घंटे तक कीर्तन किया। सामूहिक साधना के बाद आचार्य गोपमयानंद अवधूत ने प्रवचन में कहा कि यह अनमोल मनुष्य जीवन हमें केवल आत्म साक्षात्कार के लिए ही मिला है। साधना, सेवा व त्याग का आचरण करते हुए हम इस जीवन को सार्थक बना सकते है। आनंद मार्ग के जनरल भुक्ति प्रधान डॉ. विजय कुमार खिलनानी ने कहा कि प्राणी मात्र को ही परम पुरुष की संतान एवं उनका परिवार मानकर एवं प्रत्येक प्राणी में परमपुरुष की झलक देखकर हमें यह जीवन निष्काम सेवा में अर्पण करना चाहिए।