चोरी की कार, बाइक व स्कूटियों के साथ तीन गिरफ्तार
राजसमंद, चेतना भाट। कार चोरी के मामले में अनुसंधान के दौरान कार्यवाही करने के दौरान कांकरोली पुलिस टीम का हाथों एक बड़ी सफलता प्राप्त हुई। इसमें एक वाहन चोर के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए एक चोरी की कार, मोटरसाकिलें एवं स्कूतियां बरामद की गई तथा मामले में चोर गिरोह के तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। कांकरोली थानाधिकारी योगेन्द्र व्यास ने बताया कि गत 28 अक्टूबर को डॉ. शेरसिंह (40) पिता हरीसिंह निवासी ढाकपुरा मोलखेड़ा अलवर हाल शर्मा हॉस्पीटल कांकरोली ने थाने में शर्मा होस्पीटल की पार्किंग में से अज्ञात बदमाशों द्वारा कार चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई। रिपोर्ट में बताया कि कार शर्मा हॉस्पीटल की पार्किंग में खड़ी थी। प्रात: जब देखा तो पार्किंग से कार गायब थी। कार उनके दोस्त संतोष कुमार के नाम से रजिस्टर्ड थी तथा पिछले एक साल से डॉ. शेरसिंह ही उस कार का उपयोग कर रहे थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी। इसके बाद एसपी भुवन भूषण यादव, एएसपी राजेश गुप्ता एवं डिप्टी गोपालसिंह भाटी के सुपरवीजन में विशेष टीम का गठन किया गया। टीम ने शौक मौज करने वाली प्रवृत्ति के युवाओं पर निंगरानी रखी। इसी बीच 7 दिसम्बर को जिला मुख्यालय के समीपवर्ती नौगामा गांव तालाब की पाल पर तीन लडक़ों द्वारा एक कार व स्कूटी दौड़ाते फिल्मी एक्शन करने की सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस टीम को देखकर युवा सकपका गए। पुलिस द्वारा युवाओं ने पूछताछ के दौरान पहले ने अपना नाम धीरज पिता मनोहरलाल कुमावत निवासी नौगामा, दूसरे ने मुकेश पिता शांतिलाल सालवी निवासी नौगामा एवं तीसरे ने अपना नाम रवि पिता वरदीचन्द कुमावत निवासी भगवांदा कला बताया। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कब्जे से एक सिफ्ट डिजायर कार, दो मोटरसाइकिल व तीन स्कूटियां बरामद की। पुलिस ने गिरफ्तार तीनों आरोपियों में से एक बालअपचारी को बाल सम्प्रेषण गृह भेज दिया गया। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने कांकरोली सहित कई जगहों से मोटरसाइकिल, स्कूटी आदि वाहन चोरी करना स्वीकार किया है। पुलिस द्वारा आरोपियों को रिमाण्ड पर लेकर पूछताछ जारी है जिसमें और चोरी के ओर भी कई वारदातों के सामने आने की संभावना है।