राजसमंद, चेतना भाट। ऑपरेशन कोरोना नेेगेटिव अभियान को लेकर जिला प्रसाशन ने कमर कसते हुए महत्वपूर्ण निर्णय लेना प्रारंभ कर दिया है। इसके तहत अब पूरा पुलिस विभाग, यातायात विभाग एवं जिला प्रशासन ऑपरेशन नेगेटिव को सख्ती से लागू करने के लिए मुस्तैद हो चुका है। जिला प्रशासन ने शहर के विभिन्न चौराहों पर वॉचिंग पोईन्ट बनाकर वहां नर्सिंग विद्यार्थियों, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, स्काउट गाईड शिक्षक, रोवर्स, सिविल डिफैंस कार्मिक सहित स्वयं सेवी संगठन के वोलेंटियर्स नियुक्त करते हुए कड़ी कार्रवाई करना प्रारंभ कर दिया है। जानलेवा कोरोना संक्रमण के खतरे के बावजूद भी सभ्य समाज और आम नागरिकों में बिना मास्क के शहर में मोटर साइकिलों व अन्य साधनों पर बिना मास्क के चलने का जो रिवाज बन गया है उसे नियुक्त सभी संगठन व सदस्य विनम्रता से तोडऩे का प्रयास करेंगे। जिले में तेजी से कोरोना संक्रमण फैल रहा है एवं इसकी प्रभावी रोकथाम को लोगों को पहले मास्क पहनने के लिए गांधीगिरी तरिके से समझाईश की जाएगी। इसके बाद भी नहीं मानने पर आवश्यक कार्रवाई करते हुए चालान बनाने की कार्रवाई भी सख्ती से की जाएगी। इन सभी के पीछे जिला प्रशासन का उद्देश्य लोगों को कोरोना महामारी की गंभीरता को समझा कर स्वयं सुरक्षित रहने, अन्य लोगों को भी मास्क पहनने के लिए प्रेरित करने तथा कोरोना के प्रति जागरूकता लाते हुए महामारी से स्वयं के बचाव के साथ ही दूसरों का बचाव भी करना है।

एसआरके कॉलेज में नि:शुल्क रोजगरोन्मुखी कौशल प्रशिक्षण प्रारंभ


राजसमंद। विद्यार्थियों को रोजगार योग्य क्षमता प्रदान कराने के उद्देश्य को लेकर एसआरके कोलेज में नि:शुल्क रोजगरोन्मुखी कौशल प्रशिक्षण विषयों का आयोजन किया जा रहा है। प्राचार्य ने बताया कि नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत इंग्लिश स्पोकन एवं कम्युनिकेशन, बेसिक आईटी स्कील, एग्रो स्कील एवं ऑगे्रनिक फार्मिंग, रिटेल एवं सेल्समेनशीप, योगा एवं फिटनेश का प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षार्णियों को प्रमाण पत्र दिया जाएगा। महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थी एवं पूर्व विद्यार्थी प्रशिक्षण में भाग ले सकते है। फार्म भरने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर है। प्रशिक्षण से सम्बन्धित जानकारी के लिए डॉ. संतोष भंडारी 9413402090 व गजराज सिंह 9950765425 से सम्पर्क किया जा सकता है।