नवज्योति, खमनोर। जिला परिषद एसीईओ डॉ. दिनेश राय सापेल ने सेमा में चल रहे राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकाश परियोजना के महिला सशक्तिकरण योजना के तहत देलवाड़ा, कोठारिया, खमनोर की कृषि सखी को प्रशिक्षण का अवलोकन किया। उन्होंने सेंटर पर प्रशिक्षण ले रही महिलाओं से प्रशिक्षण के बारे मे चर्चा की कर परीक्षण संबंधि सवाल जवाब किए। डॉ. सापेला ने राजीविका द्वारा महिलाओं को ट्रेनिंग देखकर उनको रोजगार के लिए किए जा रहे प्रयास की सराहना की। ब्लॉक परियोजना प्रबंधक अमित जोशी ने बताया कि प्रशिक्षण में जिन महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है वो ही महिलाएं अपने गांव में जाकर मास्टर ट्रेनर के रूप में काम करेगी और लोगों को खेती करना, मौसम के अनुरूप फसल बोना, किचन गार्डन तैयार करना जैसी मुख्य जानकारी देगी। इस दौरान सरपंच संदीप श्रीमाली, जिला परियोजना प्रबंधक हितेश चौबीसा, विकास अधिकारी नीता पारीक, ग्राम विकास अधिकारी गिरधारी सिंह राव मौजूद थे।

ग्राम पंचायत की मासिक बैठक ली

डॉ. सापेला ने आदर्श ग्राम पंचायत सेमा की मासिक बैठक लेकर सभी विभाग को पूर्व बैठक में दिए गए टारगेट के बारे में चर्चा की गई। बैठक में मुख्य रूप से महात्मा गांधी आदर्श योजना के 17 सूत्रीय बिन्दुओ,ं सभी विभागीय एजेंडा पर चर्चा, ग्राम पंचायत की वार्षिक योजना के बारे में चर्चा की गई एवं आने वाले तीन माह के टारगेट के बारे में जानकारी दी। उन्होंने सापेला ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से नामांकन के बारे में जानकारी। सेमा में खेल मैदान के लिए बढिय़ा जमीन देखकर प्रापोरोजल बनाकर जल्द भिजवाने के निर्देश दिए। बैठक में सरपंच संदीप श्रीमाली, विकास अधिकारी नीता पारीक, ग्राम विकास अधिकारी गिरधारी सिंह राव, पटवारी ऋतम्भरा सोनी, कृषि परिवेक्षक वालू राम मीणा आदि मौजूद थे।