राजसमंद, चेतना भाट। गांव में कार्यरत आशा ईमानदारी के साथ प्रतिदिन 10 घरों की विजिट करें तो सभी स्वास्थ्य कार्यक्रमों के लाभार्थियों को स्वास्थ्य कार्यक्रमों का लाभ दिया सकेगा। यह निर्देश सीएमएचओ डॉ. प्रकाश चन्द्र शर्मा ने जिला परिषद सभागार में आयोजित राजसमंद ब्लॉक की आशाओ की समीक्षा बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं का शीघ्र पंजीयन एवं आगामी मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाएं, टीबी रोगियों की खोज एवं उनका उपचार, परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत योग्य दम्पत्तियों की सूची तैयार करने एवं उन्हें परिवार नियोजन के लिए प्रेरित करने, अंधता निवारण के लिए मोतियाबिंद से ग्रस्त लोगों के ऑपरेशन करवाने, मलेरिया रोकथाम के लिए ब्लड स्लाईड क्लेशन सहित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की शत प्रतिशत प्रगति आशा के माध्यम से प्रतिदिन 10 घरों की विजिट करके सुनिश्चित की जा सकती है। इस दौरान डॉ. शर्मा ने पीपरड़ा में कार्यरत आशा अंजना तिवारी, शंभूपुरा में कार्यरत राधा माली, राजसमंद के यादव मौहल्ला वार्ड नम्बर 29 में कार्यरत संजीदा बानों को 2 बच्चों पर पुरुष नसबंदी के लिए प्रेरित करने पर सम्मानित किया। बीसीएमओ डॉ. राजकुमार खोलिया ने मौसमी बीमारियों की रोकथाम एवं कोविड-19 की रोकथाम में आशा सहयोगिनियों की महत्वपूर्ण भूमिका निभाने पर सभी आशाओं की प्रशंसा की तथा सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों शत प्रतिशत उपलब्धि हासिल करने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर खण्ड कार्यक्रम प्रबंधक विमलेश तिवारी सहित विभाग के अधिकारी, कार्मिक एवं ब्लॉक की सभी आशाएं उपस्थित थी।

राजसमंद। पुरुष नसबंदी के लिए प्रेरित करने पर आशाओं को पुरुस्कृत कर सम्मानित करते एवं बैठक में उपस्थित आशाओं को निर्देश देते सीएमएचओ डॉ. पीसी शर्मा।

स्वयं के कार्य का सतत मुल्यांकन करे आशा : सीएमएचओ

सभी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की महत्वपूर्ण सदस्य है जो आमजन को जनकल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बारे में जानकारी देती है। साथ ही पात्र लोगों को लाभांवित करने की जानकारी होना भी आवश्यक है, तभी किए गए कार्यों का मूल्यांकन किया जा सकता है। यह निर्देश सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने नाथद्वारा सभागार में आयोजित आशाओ की ब्लॉक स्तरीय समीक्षा बैठक में दिए। उन्होंने सभी आशाओं को दी गई आशा डायरी का उपयोग करते हुए लक्ष्यों का निर्धारित करने के साथ ही नियमित 10 घरों में सम्पर्क करने तथा आमजन को स्वास्थ्य सेवाओं से जोडऩे के निदेश दिए। साथ ही आशाओं को मोबाईल एप लिसा के माध्यम से सर्वे किए जाने पर जोर दिया। बैठक में उन्होंने दो बच्चो पर पुरूष नसबंदी के लिये प्रोत्साहित करने पर आशा को सम्मानित किया गया। बैठक में आशाओं का विभाग अन्तर्गत संचालित सभी कार्यक्रमों एवं योजनाओं को लेकर आमुखीकरण भी किया गया। इस अवसर पर खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी खुशवंत जैन, नाथद्वारा चिकित्सक डॉ. राहुल, एसटीएस श्यामलाल सेन, एसटीएलएस तरुण रामावत, टीबी एचवी मनीष सुखवाल सहित सभी महिला स्वास्थ्य मार्गदर्शिका एवं ब्लॉक के कार्मिक उपस्थित थे।