राजसमंद, चेतना भाट। जिले के आरके राजकीय चिकित्सालय में वर्तमान में चिकित्सकीय सुविधाओं का अभाव को लेकर जिला लोक अधिकार मंच की ओर से बैठक का आयोजन कर जिला कलक्टर को राज्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री के नाम ज्ञान सौंपा गया। ज्ञापन में बताया कि आरके जिला चिकित्सालय में कुल स्वीकृत 57 पदों में से मात्र 20 चिकित्सक की कार्यरत है। जबकि आंख, हड्डी, मानसिक रेडियोलोजिस्ट, मेडिकल ज्युरिस्ट के चिकित्सक उपलब्ध नहीं है और पद रिक्त पड़े हुए है। चिकित्सकों के अभाव के चलने प्रतिदिन कई मरीजों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। मरीजों को भीलवाड़ा, उदयपुर, अहदाबाद आदि दुरस्थ चिकित्सालयों से अपना ईलाज करवाना पड़ रहा है। वर्तमान में कोविड-19 के कारण चले मंदि का दौर से मरीज इतना लम्बा सफर तय कर महंगा ईलाज करवाने में असमर्थ है। वहीं समय पर उपचार नहीं होने के कारण कई मरीजों का जान से हाथ धोना पड़ रहा है। मंच ने वर्तमान में कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए जिला कलक्टर से रिक्त पड़े के पदों पर शीघ्र से शीघ्र चिकित्सकों की नियुक्त की मांग की। इस अवसर पर मंच जिलाध्यक्ष कन्हैयालाल त्रिपाठी, महासचिव कपिल पालीवाल, प्रदेशाध्यक्ष सम्पत्तलाल लढ्ढा सहित कई सदस्य उपस्थित थे।

भारतीय किसान संघ जिला कार्यकारिणी की बैठक कल


राजसमंद। भारतीय किसान संघ जिला कार्यकारिणी की बैठक बुधवार सुबह 11 बजे जिला मुख्यालय पर आयोजित होगी। बैठक में नाथद्वारा, राजसमन्द तहसील व नगर, खमनोर, देलवाड़ा, रेलमगरा, गिलूंड, कुंभलगढ़ व कुंवारिया इकाइयों के पदाधिकारी शामिल होंगे। इसमें प्रत्येक इकाई से तहसील प्रभारी, तहसील अध्यक्ष व तहसील मंत्री की उपस्थिति अनिवार्य है। इसके साथ ही जिले की शेष इकाई भीम, चारभुजा, देवगढ़, आमेट व सरदारगढ़ की 23 अक्टूबर को आमेट में सुबह 11 बजे आयोजित होगी। बैठक में जिले के पदाधिकारियों की उपस्थित रहेगी। बैठक में संगठन के विस्तार पर चर्चा के साथ सदस्यता अभियान पर विचार विमर्ष किया जाएगा। यह जानकारी जिला प्रचार प्रमुख लोकेश पालीवाल ने दी।