एसीबी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ चलाई मुहिम, जागरूकता को लेकर जनसंवाद कार्यक्रम आयोजित
राजसमंद, चेतना भाट। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो राजस्थान महानिदेशक बीएल सोनी की ओर से चलाई गई मुहिम के तहत भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों को आवाज उठाने और जागरूक करने के लिए बुधवार को जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें एसीबी एएसपी राजेश चौधरी ने आमजन से रूबरू होते हुए ब्यूरो की कार्य प्रणाली से अवगत कराते हुए किसी भी स्थान पर भ्रष्टाचार होने पर सीधा ब्यूरो कार्यालय पहुंचने या जानकारी देने एवं भ्रष्टाचार करने वालों को रंगे हाथों पकड़वाने की अपील की। चौधरी ने बताया कि ब्यूरो इस कार्य के लिए हमेशा सक्रिय रहा है। इस कार्य में यदि आमजन भी आगे आए तो समाज में छुपे ऐसे लोगों को आसानी से पकड़ा जा सकता है। इस मौके पर शहर के व्यवसायी, वरिष्ठ नागरिक, ट्रक यूनियन, व्यापार मंडल, टेम्पो यूनियन, अनाज व्यापार संघ, फल-सब्जी व्यापार संघ, आढ़तिया संघ, सर्राफा संघ व मार्बल व्यवसाय से जुड़े लोग ने भाग लिया और खुलकर अपनी बात रखी। इस अवसर पर ट्रांसपोर्ट यूनियन से गिरिराज पालीवाल, शेरखान, पेंशनर्स एसोसिएशन से किशन कबीरा व मोहनलाल जाट, व्यापार मंडल से डालचंद कुमावत, कृषि मंडी से लक्ष्मीलाल कुमावत, अनाज व्यापार मंडल से नारायणलाल गुर्जर, किराणा व्यापार संघ से मनीष जैन, मार्बल व्यापार संघ से देवीलाल साहु, किशनलाल कुमावत, ऑटो युनियन से मेवालाल खटीक, सब्जी मंडी संघ से आजाद खां मंसुरी व होटल व्यवसाई रमेश पहाडिय़ा आदि उपस्थित थे।
जनसंवाद में ये मामले आए सामने
जन संवाद में अधिकतर मामले राजस्व विभाग, पंजीयन, खनिज विभाग, परिवहन विभाग, पंचायतीराज विभाग, जेल, पुलिस, रसद विभाग, वाणिज्य कर विभाग, वन विभाग, उद्योग विभाग, आबकारी विभाग और नगर परिषद के सामने आए। जिन्हें लेकर लोगो से कार्रवाही को लेकर रणनीति पर चर्चा की गई। एएसपी चौधरी ने बताया कि यदि लोगों ने खुले मन से मदद की तो और भी बेहतर परिणाम सामने आएंगे। लोगों ने पंजीयन विभाग व परिवहन विभाग में दलालों के मार्फत वसुली तथा अवैध खनन, बजरी परिवहन में वसुली, सरकारी कार्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार के कारण आमजन को होने वाली असुविधा के बारे में जानकारी दी तथा लोगों ने सरकारी तंत्र में फैले भ्रष्टाचार के अनुभव बताएं और सुझाव भी दिए। लोगों की समस्याओं को सुनकर चौधरी ने उचित कार्यवाही का भरोसा दिया। उन्होंने भ्रष्टाचार पर रोक लगाने के लिए राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई 24 घंटे हेल्पलाईन नंबर 1064 के बारे में जानकारी देते हुए इसे ज्यादा से ज्यादा से लोगों तक पहुंचाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ ग्रामीण स्तर पर भी लोगों में भी जागरूकता जरूरी है। भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम में जो व्यक्ति भ्रष्ट लोकसेवकों के विरुद्ध कार्यवाही कराएगा उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा। ट्रेप कार्यवाही के बाद शिकायतकर्ता के जायज काम में सहयोग किया जाएगा।
यहां पर दी जा सकती है सूचना
भ्रष्टाचार से पीडि़त कोई भी व्यक्ति राज्य स्तर पर टोल फ्री नंबर 1064 व मोबाईल वाटसएप नंबर 9413502834, उपमहानिरीक्षक भ्रष्टाचार निरोधक ब्युरो रेंज उदयपुर कार्यालय नंबर 0294-2412641 एवं मोबाईल वाटसएप नंबर 9414493314 तथा भ्रष्टाचार निरोधक ब्युरो राजसमन्द कार्यालय नंबर 02952-2210701 एवं मोबाईल वाटसएप नंबर 9413860966 पर सम्पर्क कर सूचना दी जा सकती है।