राजसमंद, चेतना भाट। राष्ट्रीय कार्यक्रमों में शत प्रतिशत उपलब्धि हासिल करने के लिए यह आवश्यक है कि गांव स्तर पर कार्य करने वाली हमारी स्वास्थ्य कार्यकर्ता का स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर आमजन में भरोसा हो। तभी लोग आपकी बात को समझेंगे, स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होंगे और स्वास्थ्य सेवाओं की मांग बढ़ेगी तथा निरोगी राजस्थान की परिकल्पना साकार हो सकेगी। यह विचार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रकाशचन्द्र शर्मा ने ब्लॉक की विभागीय समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य कार्यकर्ता को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कि कार्यकर्ताओं को विशेष रूप से प्रर्सव पूर्व जांच, सम्पूर्ण टीकाकरण, दो बच्चों पर पुरुष नसबंदी तथा गांव में नए टीबी रोगियों की खोज पर विशेष जोर देवें तथा गांव में लिसा ऐप के माध्यम से स्वास्थ्य कार्य करें। सीएमएचओ ने सभी चिकित्साधिकारी प्रभारियों को निर्देशित किया कि सभी चिकित्सा संस्थानों पर सर्दी, जुखाम व खांसी के मरीजों का कोविड-19 की जांच करवाना सुनिश्चित करें तथा खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कोरोना के सैम्पल लेने की व्यवस्था सुनिश्चित करने निर्देश दिए। बैठक में खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजकुमार खोलिया सहित सभी चिकित्सा अधिकारी प्रभारी एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ता उपस्थित थी।

राजसमंद : साध्वीवृंदों का मिलन

राजसमंद, चेतना भाट। साध्वी कमल प्रभा, साध्वी डॉ. सम्पूर्णयशा एवं सहवर्ती साध्वियों का चातुर्मास सम्पन्न कर राजनगर भिक्षु बोधि स्थल प्रांगण में बिराजित शासन साध्वी गुणमाला से स्नेह मिलन हुआ। जिसमें तेयुप रास्ते की सेवा का लाभ प्राप्त हुआ। इसमें परिषद अध्यक्ष मनीष बी चपलोत, मंत्री आशीष सोनी, भूतपूर्व अध्यक्ष विनोद मेहता, राकेश कोठारी, अंकित परमार, निखिल सहलोत, मुकेश मेहता, पिंटू, किशोर मण्डल संयोजक विपिन चपलोत, सहसंयोजक कल्पेश मांडोत, यश सामर आदि सदस्य उपस्थित थे।