खमनोर। महिला एवं बाल विकास विभाग, हिन्दुस्थान जिंक और जतन संस्थान द्वारा संचालित खुशी परियोजना के अंतर्गत जिले में कुपोषण को मिटाने के लिए राज्य सरकार द्वारा निर्धारित अम्मा गाइड के अनुसार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सहयोग से मंगलवार को शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण जांच शिविर विकेला तलाई और मोलेला में खमनोर सीडीपीओ विपुल जोशी ने निरीक्षण किया। खुशी ब्लॉक समंयवक प्रमोद सारण ने बताया कि मंगलवार को सेमा, मोलेला, सलोदा, भैंसा कमेड़, घोड़च, बागोल, शिशवी और नमाना पर शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण जांच शिविर लगाया गया। जिसमें 39 आगनबाड़ी के 325 बच्चों का एनएम आशा और कार्यकर्ताओ के द्वारा स्वास्थ्य जांच की गई। शिविर में महिला एवं बाल विकास अधिकारी विपुल जोशी, महिला सुपरवाईजर कांता चौबीसा, आईसीडीएस प्रेम शर्मा, सेमा सरपंच संदीप श्रीमाली, मोलेला सीमा जैन, सलोदा वरदा गमेती की मौजूदगी में सम्पन्न हुआ। बुधवार को खमनोर ब्लाक की नेड़च, खमनोर, संगरूण, उठारड़ा, कोशिवाड़ा, बिलौता और टांटोल पर शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण जांच शिविर होंगे। इसी प्रकार राजसमंद ब्लॉक के फरारा, वणाई, खटामला, बिनोल, फियावड़ी आदि ग्राम पंचायतों में समुदाय स्तर पर कुपोषण प्रबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें प्रशिक्षित आंगनवाड़ी स्टाफ द्वारा बच्चों की अंथ्रोपोमेट्रीक के साथ कुपोषण की जांच कर आवश्यक निदान किया।